अब कलेक्टर आदिवासी मन के जमीन बिसाये के अनुमति नइ दे पावंय

रायपुर, छत्तीसगढ़ म अब आदिवासी मन के जमीन बिसाये के अनुमति कलेक्टर नइ दे पावंय। आदिवासी मन के जमीन बिसाये के अनुमति देहे के कई मामला के बारे म कहे जाथे के वो मन फर्जी ये। केबिनेट म ह निर्णय ले गइस के भू राजस्व संहिता म संशोधन करे जाही।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के अध्यक्षता म विधानसभा परिसर म आयोजित कैबिनेट के बैठक म ये कर अलावा कई आन महत्वपूर्ण निर्णय घलोक लेहे गीस। बैठक के बाद मीडिया ल जानकारी देवत कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ह बताइस के सरकार ह आंगनबाड़ी केंद्र मन म अवइया लइका मन ल दूध अऊ अंडा देहे के निर्णय लेहे हे। ऐमा हफ्ता म दू दिन दूध देहे जाही।
कैबिनेट ह सार्वजनिक बैंक ले लेहे किसान मन के करजा घलोक माफ करे के निर्णय लेहे हे। एखर तहत किसान मन के अल्प कालीन ऋण माफ करे जाही। चौबे ह बताइस के कोआपरेटिव बैंक स्किल ऑफ फाइनेंस के लिमिट म माफ करे के प्रक्रिया ल अपनाये जाही।
कैबिनेट ह 400 यूनिट तक बिजली बिल ल हाफ करे के घलोक मंजूरी देहे हे। बैठक म राजीव आवास योजना के तहत नगरीय निकाय मन म देहे गए पट्टा मन के नियमितीकरण करे अऊ रेत खदान मन के संचालन के जिम्मा सीएमडीसी ल दीए जाय के निर्णय ल घलोक मंजूरी दीस।

लउछरहा..