जिला म बाहरी राज्य ले अवइया धान के आवक रोके सघन जांच के निर्देश

जिला के सीमावर्ती क्षेत्र मन म 17 जांच चौकी स्थापित
ड्यूटी लगाए गए अधिकारी-कर्मचारी मन ल अनिवार्य रूप ले उपस्थित होए के आदेश

महासमुंद, कलेक्टर श्री हिमशिखर गुप्ता ह खरीफ विपणन साल 2018-19 म सबले कम समर्थन मूल्य म धान उपार्जन अवधि के समय उड़ीसा अउ आन प्रांत मन ले छत्तीगसढ़ के धान उपार्जन केन्द्र मन म बेंचे बर अवइया धान के रोकथाम अउ कार्रवाई करे बर जिला के 17 अंर्तराज्यीय जांच चौकी के स्थापना करे हे। कलेक्टर ह एक आदेश जारी करके ड्यूटी म लगाए गए अधिकारी मन अउ कर्मचारी मन ल उपस्थित होके सीमावर्ती क्षेत्र के जांच चौकी म सघन जांच के निर्देश दीए हें।
एखर तहत सरायपाली तहसील के अंर्तराज्यीय जांच चौकी बंजारी जांच चौकी वन विभाग, पालीडीह/सिरपुर जांच चौकी वनविभाग, पझरापाली जांच चौकी (कृषि उपज मंडी सरायपाली कोति ले नवा स्थापित), जंगलबेडा जांच चौकी (कृषि उपज मंडी सरायपाली कोति ले नवा स्थापित), छिबर्रा (घाट) जांच चौकी (कृषि उपज मंडी कोति ले नवा स्थापित) हे। एखर प्रभारी अधिकारी के रूप म कृषि उपज मंडी समिति सरायपाली के सचिव श्री गिरधारी लाल अग्रवाल ल नियुक्त करे गए हे। अइसनहे बसना तहसील के गढ़फुलझर जांच चौकी मंडी विभाग, पलसापाली जांच चौकी (कृषि उपज मंडी बसना कोति ले नवा स्थापित), केरामुड़ा/कुदारीबाहरा जांच चौकी (कृषि उपज मंडी बसना कोति ले नवा स्थापित) साल्हेझरिया जांच चौकी (कृषि उपज मंडी बसना कोति ले नवा स्थापित) हे। एखर प्रभारी अधिकारी के रूप म कृषि उपज मंडी समिति बसना के प्रभारी सचिव श्री जाधव बारिक ल नियुक्त करे गए हे।
अइसनहे पिथौरा तहसील के कटंगतराई जांच चौकी वन विभाग, छोटे लोरम जांच चौकी (कृषि उपज मंडी पिथौरा कोति ले नवा स्थापित), चरौदा जांच चौकी (कृषि उपज मंडी पिथौरा कोति ले नवा स्थापित) हे। एखर प्रभारी अधिकारी के रूप म कृषि उपज मंडी समिति पिथौरा के सचिव श्री श्रीनिवास मंगल ल नियुक्त करे गए हे। बागबाहरा तहसील के टेमरी जांच चौकी वन विभाग, नर्रा जांच चौकी वन विभाग, खेमड़ा जांच चौकी (कृषि उपज मंडी बागबाहरा कोति ले नवा स्थापित), खट्टी जांच चौकी (कृषि उपज मंडी बागबाहरा कोति ले नवा स्थापित) अउर रेवा जांच चौकी (कृषि उपज मंडी बागबाहरा कोति ले नवा स्थापित) करे हे। एखर प्रभारी अधिकारी के रूप म कृषि उपज मंडी समिति बागबाहरा के प्रभारी सचिव श्री कुशल ध्रुव ल नियुक्त करे गए हे।
निरीक्षण दल सीमावर्ती क्षेत्र के गांव मन म भ्रमण करके अवैध धान के आवाजाही म निगरानी रखहीं। समर्थन मूल्य म धान उपार्जन अवधि के समय पड़ोसी राज्य मन ले धान लाके खरीदी केन्द्र मन म बेंचे के आशंका रहिथे, एखर रोकथाम बर ये व्यवस्था करे गए हे। 15 अकटूबर 2018 ले 30 अपरेल 2019 तक आन राज्य मन के ले धान के आयात संचालक खाद्य अउ नागरिक आपूर्ति के अनुमति ले ही हो सकही। सुपर फाईन किसिम के धान जऊन 1900 रूपिया प्रति क्विंटल ले जादा लागत के हे, वोकर आयात बर संचालक खाद्य के अनुमति लेना जरूरी नइ हे, फेर आयातक ल धान आयात करे के सूचना जिला खाद्य अधिकारी, महासमुंद ल देना होही। हर एक जांच चौकी प्रभारी अउ ये मां पदस्थ कर्मचारी संबंधित अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, तहसील मन अऊ थाना प्रभारी के सतत संपर्क म रहिके सौंपे गए दायित्व के निर्वहन करहीं।

लउछरहा..