जीन्स पैन्‍ट म छोटे खीसा काबर रहिथे??

आप मन तो जानतेच होहू के कोनो भी जीच के आकार-प्‍्रकार के कुछू ना कुछु कारन होथे। इही कारन से हम पता लगाए के उदीम करने के जीन्स पैन्ट के जेवनी खीसा के उपर कोति एक ठन छोटकन पाकिट काबर होथे।
जीन्‍स पैन्‍ट अड़बड़ मजबूत होथे ए कारन से विदेश म येला गाय चरईया, खेतिहर अउ मजदूर मन पहिरत रहिन। ये ह अड़बड़ दिन तक चलय अउ जल्‍दी फटय नहीं तेकर सेती ओन येला पहिरयं। बाद म येकर चलन अइसे बाढि़स के ये हर फेसन होगे। त ओ समें पहटिया मजदूर मन येला पहिरत रहिन तब छोटे घड़ी ल हाथ म बांधे के पट्टा के चलन चालू नई होए रहिस। सन 1800 म अमेरिका के गाय चरईया मन चेन वाले घड़ी रखंय, ओ मन ल बेरा देखे बर अपन घड़ी ल हब ले देखे अउ उपरेच म रखे बर छोटे खीसा के जरूरत के मुताबिक ये ह सुरू होईस, बाद म ये ह चलन म आगे।
अब नवा लईका मन येमा पेन ड्राइव धरथें अउ कई झन सिक्‍का धरथें।

लउछरहा..