राजधानी म 28 नवम्बर के दिन मनाये जाही छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस

रायपुर, राज्य सरकार के संस्कृति अऊ पुरातत्व विभाग के संस्था छत्तीसगढ़ राजभाषा आयोग कोति ले बुधवार 28 नवम्बर के दिन इहां छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस के आयोजन करे जाही। कार्यक्रम तीन सत्र मन म महंत घासीदास संग्रहालय परिसर स्थित सभागृह म बिहनिया 11 बजे शुरू होही। छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष श्री के.आर. पिस्दा शुभारंभ सत्र के मुख्य अतिथि होही। पहिली सत्र म ऊंखर संगें-संग वरिष्ठ साहित्यकार डॉ. विनय कुमार पाठक अऊ डॉ. सुशील त्रिवेदी (पूर्व राज्य निर्वाचन आयुक्त) घलोक अपन विचार व्यक्त करहीं। दूसर सत्र म मंझनिया 12 बजे ले दू बजे तक चर्चा गोष्ठी होही, जऊन ‘सरकारी काम-काज म छत्तीसगढ़ी’ विसय उपर केन्द्रित रइही। ये मा डॉ. सुशील त्रिवेदी संग धमतरी के वरिष्ठ कवि श्री सुरजीत नवदीप अऊ भाखा वैज्ञानिक अउ पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय रायपुर के पहिली प्राध्यापक डॉ. चितरंजन कर, कवर्धा के वरिष्ठ कवि श्री गणेश सोनी ‘प्रतीक’ अउ रायपुर के वरिष्ठ साहित्यकार श्री रामेश्वर शर्मा अपन वक्तव्य दीहीं। तीसर सत्र म मंझनिया तीन बजे ले छत्तीसगढ़ी कवि सम्मेलन के आयोजन करे जाही। ये मा आमंत्रित कवि मन के काव्यपाठ होही। संस्कृति अऊ पुरातत्व विभाग अउ छत्तीसगढ़ राजभाषा आयोग ह सबो नागरिक मन ले कार्यक्रम म सामिल होए के अपील करे हें।

लउछरहा..