राजकीय सम्मान के संग विदा होइन पं. दामोदर प्रसाद त्रिपाठी

छुईखदान, वीरेन्‍द्र बहादुर सिंह। नगर के प्रख्यात स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पं. दामोदर प्रसाद त्रिपाठी के आज राजकीय सम्मान के संग इहां अंतिम संस्कार होइस। हजारों आंसू भरे आंखी ह आज स्व. त्रिपाठी ल आखरी विदाई दीस। स्व. दामोदर प्रसाद त्रिपाठी के अंतिम यात्रा आज बिहनिया 11 बजे ब्राह्मण पारा स्थित ऊंखर निवास स्थान ले निकलिस। शवयात्रा म बड़ संख्या म स्वजन, परिजन अउ गणमान्य नागरिक सामिल होइन। स्थानीय मुक्तिधाम म जिला प्रशासन अउ पुलिस प्रशासन के तरफ ले स्व. त्रिपाठी ल गार्ड आफ ऑनर दे गीस अउ पार्थिव शरीर ल…

मरना परही त मर जाबो, फेर छत्तीसगढ़ी ल शिक्षा अऊ सरकारी काम-काज के भाखा बनाबोन- नंदकिशोर शुक्ल

रायपुर। छत्तीसगढ़ी राजभाषा हमर महतारी भासा ये, छत्तीसगढ़ राज्य के गठन ह छत्तीसगढ़ी भाषा के आधारेच म होय हे। अऊ इही छत्तीसगढ़ी भाखा अधारित राज्य निर्माण बर हमार पुरखा मन ल लंबा संघर्ष करना परे रहिस, शहादत देना परे रहिस। फेर दुर्भाग्य हे के आज राज्य निर्माण के 18 साल अऊ राजभाषा बने के 10 साल बाद घलोक छत्तीसगढ़ी बर हमला अपनेच राज्य म संघर्ष करना परत हे। ये बात काली छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस के मौका म छत्तीसगढ़ी राजभाषा मंच के संयोजक नंदकिशोर शुक्ल ह कहिन। दरअसल रायपुर प्रेस क्लब…