बाड़ी योजना ले राजकुमार के बाढि़स आमदनी

रायपुर, बाड़ी योजना के तहत बाड़ी के संरक्षण अऊ संवर्धन ले छोटे किसान मन ल भरपूर लाभ मिले लगे हे। ओ मन मौसमी साग-भाजी उबजा के मुनाफा कमावत हें। बेमेतरा जिला के विकासखण्ड साजा के ग्राम पेण्ड्रावन के किसान राजकुमार पटेल ह बताइस कि ओ ह अपन 40 डिसमिल के बाड़ी म खरीफ अऊ रबी मौसम म अलग-अलग प्रकार के साग भाजी फसल लगाथे। फेर ये पइत ग्राम सुराजी योजना के तहत ओ ल गर्मी के समय उद्यानिकी विभाग ले भिण्डी के एक किलो बीज अऊ वर्मी खाद, वर्मी बेड,…

वनांचल क्षेत्र कोरिया म ‘सखी वन स्टॉप सेंटर‘ बनिस पीड़ित महिला मन के सहारा

सेंटर ह 641 पीड़ित महिला मन ल दीस सहायता, 24 घंटा मिलत हे आपातकालीन सुविधा रायपुर, सुदूर वनांचल क्षेत्र कोरिया जिला के बैकुण्ठपुर म महिला अऊ बाल विकास विभाग कोति ले संचालित ‘सखी’ वन स्टॉप सेंटर पीड़ित बालिका मन अऊ महिला मन ल सहायता पहुंचाए बर सुरक्षित अऊ सुलभ सहारा के रूप म उभरत हे। घर के भीतर या घर के बाहिर कोनो रूप म पीड़ित अउ संकटग्रस्त महिला ल एके छत के तरी म सबो प्रकार के सुविधा अउ सहायता पहुंचाए बर 1 अपरेल 2017 म ये सेंटर के…

बाड़ी योजना ले साग भाजी बेचके मनीराम होइस खुशहाल

बेमेतरा, राज्य सरकार के महत्वाकांक्षी योजना, सुराजी गांव योजना- नरवा, गरूवा, घुरूवा अउ बाड़ी अंतर्गत बाड़ी लगाय ले बाढ़े आमदनी ले बेमेतरा जिला के मनीराम के जीवन म खुशहाली आ गए हे। बेमेतरा विकासखण्ड के ग्राम दमईडीह निवासी किसान मनीराम चन्द्राकर ह बताइस कि ओ ह करीबन एक एकड़ म साग भाजी के खेती करत हे। पहिली वो मुंगफली, जोंधरी (भुट्टा), चेंचभाजी अउ चौलई लगात रहिस। फेर सरकार के नरवा, गरूवा, घुरूवा अउ बाड़ी योजना आए के बाद उद्यानिकी विभाग के तकनीकी सलाह ले जुन्ना बाड़ी के पुनरोद्वार करिस। एखर…

छत्तीसगढ़ के नवाचारी मशरूम उत्पादक ल मिलीस राष्ट्रीय सम्मान खेत मन म खुले म पैरा मशरूम उत्पादन बर श्री राजेन्द्र साहू सम्मानित

रायपुर, छत्तीसगढ़ के नवाचारी मशरूम उत्पादक किसान श्री राजेन्द्र कुमार साहू ल मशरूम उत्पादन म नवाचार अऊ उपलब्‍ध संसाधन मन के बनेच उपयोग बर राष्ट्रीय सम्मान प्राप्त होय हे। महासमुंद जिला के बसना विकासखण्ड के ग्राम पटियापाली के किसान श्री राजेन्द्र कुमार साहू ल मशरूम अनुसंधान निदेशालय, सोलन (हिमाचल प्रदेश) कोति ले प्रगतिशील मशरूम उत्पादक सम्मान ले नवाजे गए हे। श्री साहू ल ये सम्मान ऊंखर खेत मन म आमा के पेंड़ के तरी खुला म पैरा मशरूम उत्पादन के नवा तकनीक विकसित करे बर प्रदान करे गए हे। श्री…

लक्ष्मी प्रसाद के मुस्कान ले घर म हे रौनक : डभरा पुनर्वास केन्द्र म अब तक 372 लइका मन ल मिलीस लाभ

जांजगीर-चांपा, नगर पंचायत डभरा म संचालित पोषण पुनर्वास केन्द्र के लाभ उहां के कुपोषित लइका मन ल मिलत हे। इही कड़ी म नगर पंचायत डभरा क्षेत्र के वार्ड नंबर 09 केनाभाठा निवासी लक्ष्मी प्रसाद अब सामान्य श्रेणी के लइका मन म सामिल हो गए हे। महिला अउ बाल विकास के सुपरवाईजर श्रीमती भावना नेताम ह बताइस कि लक्ष्मी प्रसाद के पिता संतोष चौहान मजदूरी करथे अउ ओखर माता गनेशी बाई मूक बधिर हे अऊ खुद घलोक एनीमिक हे। केन्द्र के डॉक्टर माधूरी चन्द्रा ह पांच अपै्रल के दिन लक्ष्मीप्रसाद के…

आजीविका गतिविधि के नवा केन्द्र बनिस गौठान

गौठान ले गोबर, गोबर ले बनही जैविक खाद अउ दवई 11 गौठान क्षेत्र के महिला समूह मन ल प्रशिक्षण के संग सिखाए जात हे जैविक दवई बनाए के विधि रायपुर, गौठान ल एक आजीविका गतिविधि केन्द्र के रूप म देखना अपन आप मन म एक सुखद अनुभूति ये। गांव मन म वइसे तो गौठान जीवनशैली के एक अहम हिस्सा रहे हे फेर एला एक आय जनित गतिविधि केन्द्र के रूप म देख पाना मुश्किल रहिस। फेर आज मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के दूरगामी सोच ह ये सपना ल हकीकत म…

उफनत इन्द्रावती पार करके टीका लगाए ल जाथे रानी

रायपुर, बीजापुर जिला के धुर नक्सल प्रभावित क्षेत्र बेलनार के उपस्वास्थ्य केन्द्र के ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक सुश्री रानी मंडावी हर साल बरसात के दिन म उफनती इन्द्रावती नदी ल डोंगा ले नहाक के लइका मन अऊ गर्भवती महिला मन ल टीका लगाए जाथें। विषम परिस्थिति मन म अऊ घना जंगल, पहाड़ अउ पथरा वाले रद्दा के बाद घलव ओ ह अपन जिम्मेदारी ल पूरा समर्पण के संग पूरा करत हे। काम बर ये लगन अऊ असाधारण परिस्थिति मन म उत्कृष्ट स्वास्थ्य सेवा बर मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ह आज रायपुर…

नोनी ल छट्ठी के दिनेच मिल गे स्थायी जाति प्रमाण पत्र

रायपुर, गुण्डरदेही विकासखण्ड के ग्राम खपरी(ब) म ग्राम पैरी के कुमारी भूमि पिता श्री मनोहर सिंह ल नोनी के जनम के छठवा दिनेच विधायक श्री कुंवर सिंह निषाद के हाथ ले जाति प्रमाण पत्र मिल गीस। श्री मनोहर सिंह ह जाति प्रमाण पत्र प्राप्त करके खुसी-खुसी बताइस कि बेटी के जनम के तीन दिन बाद वो ह जाति प्रमाण पत्र बर आवेदन करे रहिस अऊ आज छट्ठी के दिन जाति प्रमाण पत्र मिल गीस। वो ह लउहे प्रमाण पत्र मिले म शासन ल धन्यवाद देवत कहिस कि नोनी के भविष्य…

माड़ के बहिरी (झाडू) गांव वाले मन के आय के मुख्य जरिया बनिस

नारायणपुर, बहिरी (झाडू ब्रूम) एक घरेलू सामान ये। जऊन साफ-सफाई अउ कचरा बहारे बर उपयोग करे जाथे। झाडू कई प्रकार के चीज मन ले बनाये जाथे। स्थानीय स्तर म इहां के घास, पत्ति अऊ पोधा ल झाडू बनाए म उपयोग करे जाथे। आजकल कृत्रिम सींक अऊ फाइबर के घलोक झाडू बाजार म बनाके बेंचे जात हे। सड़क ले लेके संसद तक मोहल्ला ले लेके घर तक हर तरफ साफ-सफाई बर झाडू के उपयोग होथे। एखर बिना साफ-सफाई होना मुमकिन नइ ये। हर मनखे ह अपन जीवन म कभू न कभू…

देवसेना स्व-सहायता समूह के महिला मन बारी मन म लगात हे मेंहदी के पौधा

बिलासपुर, बिलासपुर जिला के जादा आदिवासी बसइया विकासखण्ड मरवाही म देवसेना स्व-सहायता समूह के महिला मन अपन घर के बारी मन म मेंहदी के पौधा लगावत हें। जेखर से पर्यावरण संरक्षण होही अऊ ओ मन ल कमई तको होही। समूह के महिला मन ह गांव म खाली पड़े भर्री जमीन म घलोक वृक्षारोपण करे के बीड़ा उठाये हें। एखर बर वन विभाग कोति ले ओ मन ल दस हजार पौधा निःशुल्क देहे जात हे। देवसेना स्व-सहायता समूह के ग्रामीण आदिवासी महिला मन आत्मनिर्भर होए के संगें-संग पर्यावरण के सुरक्षा बर…