लोहा अऊ कोयला के अलावा आन उद्योगों ल दे जाही बढ़ावा

  • कृषि ले संबंधित उद्योग मन उपर विशेष फोकस
  • सीआईआई आयोजित कार्यक्रम म मुख्यमंत्री सामिल होइन

रायपुर, प्रदेश म संसाधन मन के कमी नइ हे। ए संसाधन मन के समुचित उपयोग करे के जरूरत हे, संगेच ए बात म जोर देहे के जरूरत हे के पर्यावरण के नुकसान घलोक झन होवय। प्रदेश म लोहा अऊ कोयला उपर आधारित उद्योग के अलावा आन उद्योग ल बढ़ावा देना हे, विशेष कर कृषि आधारित उद्योग मन ल। ये बात मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ह कंफेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्रीय (सीआईआई) से काल रात आयोजित कार्यक्रम म कहिन।
कार्यक्रम म मुख्यमंत्री श्री बघेल ह कहिन के प्रदेश म कृषि उत्पाद जइसे-केला, मक्का, टमाटर, चना के पैदावार जादा हे, फेर सिरिफ धान उपर ध्यान देके उद्योग मन के स्थापना करे गए हे। आवइया दिनन म आन फसल मन ले संबंधित उद्योग मन के घलोक विकास करे जाना चाही। राज्य म आईटी, हेल्थ, कृषि ले संबंधित उद्योग लगाए बर बहुत संसाधन हे, सबो राज्य मन ले आवागमन के उचित सुविधा हे। उद्योग विभाग आप मन के सहयोग बर हे। उद्योग मन के स्थापना पर्यावरण नियम मन के दायरा म रहिके लगाय बर प्रोत्साहित करे जाही। प्रदेश म उद्योग मन के स्थापना ले रोजगार के अवसर मिलही अऊ सरकार ल राजस्व के प्राप्ति घलोक होगी।

लउछरहा..