छत्तीसगढ़ के विकास के बिना भारत के विकास के कल्पना नहीं : श्री रामनाथ कोविन्द

रायपुर, 26 जुलाई 2018। राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविन्द ह आज छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग के मुख्यालय जगदलपुर तीर ग्राम डिमरापाल म स्वर्गीय श्री बलिराम कश्यप स्मृति शासकीय मेडिकल कॉलेज के 500 बिस्तर वाले नवनिर्मित अस्पताल भवन के लोकार्पण करिन। उमन ए मौका म छत्तीसगढ़ के 50 लाख मनखे मन ल निःशुल्क स्मार्ट फोन देहे बर राज्य सरकार के संचार क्रांति योजना के घलोक शुभारंभ करिन। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह मंच म प्रदेशवासी मन के तरफ ले राष्ट्रपति के अऊ उंखर धर्मपत्नी अउ देश के पहिली महिला श्रीमती सविता कोविंद के आत्मीय स्वागत करिन।
राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविन्द ह कहिन के बस्तर के विकास के बिना छत्तीसगढ़ के विकास के अऊ छत्तीसगढ़ के विकास के बिना भारत के विकास के कल्पना नइ करे जा सकय। श्री कोविन्द ह बस्तर संग पूरा छत्तीसगढ़ म आदिवासी मन के जीवन म बदलाव लाय बर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के प्रतिबद्धता ल अनुकरणीय बतात एखर बर ओ मन ल अऊ राज्य सरकार के पूरा टीम ल अउ बस्तर के जनता ल बधाई देहे हें। श्री कोविन्द आज बस्तर संभाग के मुख्यालय जगदलपुर तीर ग्राम डिमरापाल म स्वर्गीय श्री बलिराम कश्यप स्मृति मेडिकल कॉलेज बर लगभग 170 करोड़ रूपिया के लागत ले निर्मित पांच सौ बिस्तर वाले विशाल अस्पताल भवन के लोकार्पण करे के बाद जनसभा ल सम्बोधित करत रहिन। उमन कहिन ये अस्पताल भवन आधुनिक चिकित्सा विज्ञान के एक प्रमुख केन्द्र बनही। न केवल छत्तीसगढ़ राज्य बर भलुक पूरा देश बर चिकित्सा शिक्षा अऊ सेवा के एक उच्चतर मानक स्थापित करही।
श्री कोविन्द ह ए अवसर म राज्य के 50 लाख मनखे मन ल निःशुल्क स्मार्ट फोन दे बर राज्य सरकार के संचार क्रांति योजना के घलोक शुभारंभ करिन। जनसभा म एकर उल्लेख करत श्री कोविन्द ह कहिन – पूरा राज्य म 45 लाख महिला मन अऊ पांच लाख युवा मन ल स्मार्ट फोन देहे अऊ बड़े तादाद म मोबाइल टावर लगाय के राज्य सरकार के ये योजना ए क्षेत्र के विकास ल एक नवा आयाम देही। इहां के आदिवासी महिला मन अऊ युवा मोबाइल बैंकिंग के संगें-संग केन्द्र अऊ राज्य सरकार कोति ले मोबाइल फोन के जरिये दे जात आन सुविधा मन के लाभ उठा सकही। राष्ट्रपति ह कहिन – ए योजना म स्मार्ट फोन अऊ मोबाइल टावर के सुविधा मन ले कनेक्टिविटी के दृष्टि ले बस्तर अऊ बेंगलुरू के बीच के अंतर खतम कर देहे के क्षमता हे। मोला ये देखके बहुत खुशी होत हे के देश के ग्रामीण अऊ आदिवासी अंचल म घलोक धीरे-धीरे आधुनिक सुविधा पहुंचत हे।
श्री कोविन्द ह चिनहा स्वरूप कुछ हितग्राही मन ल मोबाइल फोन देके शुभकामना दीन। हम आप ल बता देवन के राष्ट्रपति के रूप म देश के बागडोर संभाले के एक साल सफलता ले पूरा होए म श्री कोविन्द ह, छत्तीसगढ़ के आदिवासी बहुल बस्तर संभाग के दू दिवसीय दौरा म आए रहिन। आज उंखर बस्तर यात्रा के दूसरा दिन रहिस। उमन कहिन बस्तर अऊ तीर तखार के क्षेत्र मन ले मैं भलीभांति परिचित हंव। करीबन पन्द्रा-सोला साल पहिली मैं वरिष्ठ आदिवासी नेता श्री बलिराम कश्यप के आमंत्रण म बस्तर आए रहेंव। तब अऊ आज के बस्तर म जमीन – आसमान के अंतर आ गए हे। श्री कोविन्द ह कहिन – आज अऊ काल के दू दिन के प्रवास के बेरा मोला एक बदलत बस्तर देखे ल मिलीस, जहां आज विश्वविद्यालय, इंजीनियरिंग अऊ मेडिकल कॉलेज हे, अच्छा सड़क हे, इंटरनेट अऊ मोबाइल कनेक्टिविटि हे अऊ ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क हे। संगेच अब इहां रेल अऊ नियमित हवाई सेवा घलोक हो गए हे। ए उपलब्धि मन के पीछू जऊन दृष्टि, संकल्प अऊ कर्मठता हे अउ आदिवासी भाई-बहिनी मन के जीवन म बदलाव लाय बर जऊन प्रतिबद्धता हे, वो अनुकरणीय हे। उमन दंतेवाड़ा जिला के ग्राम हीरानारा के अपन प्रवास अऊ वहां महिला स्व-सहायता समूह मन अऊ किसान समूह मन के एकीकृत खेती प्रणाली, दंतेश्वरी ई-रिक्शा सेवा, दंतेवाड़ा के एजुकेशन सिटी के आस्था विद्या मंदिर अऊ सझम विद्यालय के लइका मन के प्रतिभा के घलोक आज के आमसभा म उल्लेख करत उंखर तारीफ करिन।

लउछरहा..