मुुंहु फारे आवत हावय कोकड़ा कि मछरी फसउल के दिन आगे

तीन चरण म होही प्रदेश में चुनइ, पहिली म बस्तर, त तिसरइया चरण म दुर्ग संग 7 सीट बर परही वोट

धर्मेन्‍द्र निर्मल के सार समाचार, छत्तीसगढ़ म तीन चरण म लोकसभा चुनई होही। 11 अप्रैल, 18 अप्रैल अउ 23 अप्रैल के छत्तीसगढ़ म चुनई कराए जाही। छत्तीसगढ़ के 11 लोकसभा सीट में ले 11 अप्रैल के सिरिफ एक सीट बस्तर लोकसभा खातिर वोटिंग होही। उहेंचे 18 अप्रैल के तीन लोकसभा सीट कांकेर, राजनांदगांव अउ महासमुंद बर वोट डारे जाही। जबकि 23 अप्रैल के 7 लोकसभा सीट बर वोटिंग होही। जेन 7 लोकसभा खातिर वोटिंग होही ओमा रायपुर, दुर्ग, रायगढ़, सरगुजा, बिलासपुर, जांजगीर अउ कोरबा सीट खातिर वोट डारे जाही।
बस्तर बर अधिसूचना 18 मार्च के जारी होही, 25 मार्च तक नामांकन भरे जा सकही, 28 मार्च तक नामांकन वापस लिये जा सकही, उहेंचे 11 अप्रैल के चुनई होही। दूसरइया चरण खातिर कांकेर, राजनांदगांव अउ महासमुंद खातिर 19 मार्च के अधिसूचना जारी होही। नामांकन 26 मार्च तक भरे जा सकही, जबकि 29 मार्च तक नाम वापस लिये जा सकही। 18 अप्रैल के चुनई होही। तीसरइया चरण खातिर रायपुर, दुर्ग, रायगढ़, सरगुजा, बिलासपुर, जांजगीर अउ कोरबा सीट खातिर अधिसूचना 28 मार्च के जारी होंही, 4 अप्रैल तक नामांकन भरे जा सकही, उहेंचे 8 अप्रैल तक नाम वापस लिये जा सकही। 23 अप्रैल को वोट डारे जाही।
पूरा प्रदेश म पइत 1.89 करोड़ वोटर अपन मताधिकार के प्रयोग करही जबकि पीछू पइत 1.76 करोड़ मतदाता मन अपन मताधिकार के प्रयोग करे रिहिन हे। ए
पइत 13 लाख मतदाता बाढ़े हे।

चटकारा:
गुरूजी:- मानसून अउ चुनई के मौसम का समानता हे ?
बंठा राम:- मानसून के आए ले करिया करिया बादर उमड़े घुमड़े लगथे। सफेद कोकड़ा मन साधु भेष धरे बीच धार म उतरे लगथे।
गुरूजी:- अउ अन्तर का हे जी ?
बंठा राम:- अन्तर सिरिफ अतके हे गुरूजी मानसून के कोकड़ा मछरी ल तुरते गटक देथे अउ चुनई मौसम के कोकड़ा ह सबो मछरी ल संग म रखे रहिथे पाछू जुवार समे देखके एकक करके उन्कर लहू ल पी पीके उन ल फेर फुन्नाए बर पानी म छोड़त जाथे।

लउछरहा..