राजभवन म आगी बुताए के बारे म बताए गीस

रायपुर, राजभवन म आज नगर सेना के अधिकारी मन कोति ले राजभवन म पदस्थ जम्‍मो अधिकारी अउ कर्मचारी मन ल आगी लगे म अग्नि शमन यंत्र के उपयोग अऊ आगी बुझाए के आन तरीका मन के जानकारी दीन। फायर अधीक्षक श्री एम. अशरफी ह बताइस के आम जीवन म हमला घर, कार्यालय या आन स्थान मन म आगी लगे के स्थिति के सामना करना पर सकत हे। आगी लगे के कई कारण हो सकत हे, जेमा शार्ट सर्किट, घरेलू गैस लीक होए म अऊ पेट्रोल-डीजल आदि ले हे। उमन बताइस के जब कहूं आगी लगथे त ओ हालत म मनखे ल घबराना नइ चाही। कोसिस करना चाही के आस पड़ोर ल आगी लगे के सूचना देवव। बिजली के उपकरन, मीटर आदि म आगी लगे म सबले पहिली ओला सूखा डंडा ले मारके के विद्युत विच्छेद कर देवव। ओखर बाद रेती या अग्निशमन यंत्र के उपयोग करके आगी बुझा देवव या फायर बिग्रेड ल सूचना देवव।
श्री अशरफी ह बताइस के रसोई म घरेलू गैस के लीक होए के सेती आगी लगे के स्थिति म कहूं सिलेण्डर प्लेटफार्म के भीतर हे, त ओला डंडा ले बाहिर निकालव। ओखर बाद गैस निकले के जघा म गीला कंबल या मोटा चादर लपेट देवव, आगी अपने आप बुझा जाही। कहूं कोनो धातु म आगी लगे हे त रेती या अग्निशमन यंत्र के उपयोग करव, ए स्थिति म आग बुझाए बर पानी के उपयोग नइ करना चाही। उमन बताइस के प्रयास करव कि घर म अग्निशमन यंत्र जरूर रखव। ए अवसर म उप सचिव श्रीमती रोक्तिमा यादव अउ राजभवन के नियंत्रक श्री हरबंश मिरी संग राजभवन के अधिकारी-कर्मचारी घलोक उपस्थित रहिन।

लउछरहा..