कम उम्‍मर म बनिस सरपंच, लइका मन ल देथे निःशुल्क शिक्षा

  • छात्रवृत्ति ले मिले मदद ले पूरा करे रहिस एमएससी के पढ़ई
  • बिलासपुर जिला के ग्राम पंचायत सारबहरा के महिला सरपंच सुश्री ऋतु पंद्राम
  • काम – 23 साल के उम्‍मर म सरपंची, गांव के लइका मन ल निःशुल्क शिक्षा देना, सरकार के योजना मन के लाभ गांव वाले मन ल ल देलाना, क्षेत्र के विकास बर उदीम करना।

गौरेला विकासखंड के ग्राम पंचायत सारबहरा के सरपंच सुश्री ऋतु पंद्राम क्षेत्र के सबले कम उम्‍मर सरपंच हे. बिलासपुर जिला के गौरेला विकासखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत सारबहरा के जनसंख्या करीब 9 हजार हे, जिहां 2 हजार परिवार निवास करथे अऊ 3200 मतदाता हे। इहां के अभी हाल के सरपंच सुश्री ऋतु पंद्राम गांव के विकास ल लेके सरलग काम करत हे। ऋतु पंद्राम के कहना हे के ओ ल उच्‍च शिक्षा प्राप्त करे बर अड़बड़ परेशानी के सामना करना परे रहिस हे। राज्य सरकार के उच्‍च शिक्षा अऊ छात्रवृत्ति योजना के तहत ओ ह एमएससी के पढ़ाई पूरा करिस। एमएससी के पढ़ाई पूरा करे के बाद गांव के सरपंच पद बर चुनाव लडि़स अऊ जनता के समर्थन म वो ह जीतिस। ओ बताथे के ओखर पिता कृषक हे अउ वो ह अपन माता-पिता के संग गांव म रइथे।
सुश्री ऋतु कहिस के एमएससी पढ़े के सेती घलव मनखे मन ह वोला गांव के जिम्मेदारी देवत सरपंच बना दीन। सरपंच बने के बाद गांव म कृषि बर पानी के व्यवस्था बर उमन वैकल्पिक उपाय के रूप म वर्षा के जल संग्रहण के काम पहिली कराईन।
सरपंच सुश्री ऋतु ह बताइस के ग्राम पंचायत के जिम्मेदारी निभाए के संगें-संग ओ ह शिक्षा के प्रति काफी गंभीर हे। ओ ह ग्राम पंचायत के लइका मन ल निःशुल्क पढ़ाथे। एक समय गांव म शिक्षा ल लेके जादा माहौल नइ रहिस, फेर अब ऋतु के उच्‍च शिक्षा ले प्रेरित होके गांव के कई छात्रा मन अऊ महिला मन शिक्षा प्राप्त करत हें।

लउछरहा..