मुख्यमंत्री ग्राम सांकरा म आयोजित श्रीरामचरित मानस सम्मेलन म होइन सामिल

रायपुर, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल काली धमतरी जिला म नगरी विकासखण्ड के ग्राम सांकरा म आयोजित नौधा श्रीरामचरित मानस सम्मेलन म सामिल होइन। मुख्यमंत्री ह कहिन के परम्परा के मुताबिक छत्तीसगढ़ माता कौशिल्या के मइके ये अऊ भगवान श्रीराम छत्तीसगढ़ के भांचा। एखर सेती छत्तीसगढ़ म भांचा के पांव परे के परम्परा हे। उमन कहिन के ये श्रृंगी ऋषि के पावन धरती ये, जेमन राजा दशरथ बर संतान प्राप्ति बर यज्ञ करवाये रहिन।
मुख्यमंत्री श्री बघेल ह ए अवसर म कहिन के अवइया एक अपरेल ले हर परिवार ल 35 किलो चावल खाद्यान्न अऊ पोषण सुरक्षा योजना के अंतर्गत मिलही। कहूं परिवार म छे सदस्य हे त 42 किलो, 7 सदस्य वाले परिवार ल 49 किलो अऊ 8 सदस्य मन वाले परिवार ल 56 किलो चावल मिलही। उमन नशा बंदी बर समाज ले सहयोग के आव्हान करत कहिन के नशा एक सामाजिक बुराई हे। सबो समाज के सियान मन ले निवेदन हे के ओ मन आपसी बैठक करके शराबबंदी के मुहिम बर आगू आवंय। ए सामाजिक बुराई ल खतम करे बर समाज के सबो वर्ग एक संग आघू आवव अऊ एकजुट होके एला खतम करे म अपन भूमिका सुनिश्चित करव।
कार्यक्रम म मुख्यमंत्री ह महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरवा अउ बारी के बारे म अपन बात रखत कहिन के गौमाता के सेवा ले आमदनी होहिच, संगेच गोबर गैस प्लांट लगाके गोबर गैस कनेक्शन स्थापित करके रंधनी बर मुफ्त ईंधन पैदा कर सकबोन, जेखर से महंगा गैस सिलेंडर लेहे के जरूरते नइ होही। अइसनहे ग्राम स्तर म गौठान बर जगा सुरक्षित करे अऊ बाड़ी के घेराबंदी करके साग-भाजी के पैदावार के संगें-संग गौवंश बर हरियर चारा उपजाए के घलोक सफल कोसिस करे जा सकत हे।
ए अवसर म सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी ध्रुव, पूर्व मंत्री श्री माधव सिंह ध्रुव, पूर्व विधायक श्रीमती अंबिका मरकाम, अशोक सोम संग कलेक्टर श्री रजत बंसल के अलावा मानस सम्मेलन आयोजन समिति के सदस्यगण अउ बड़ संख्या म ग्रामीणजन उपस्थित रहिन।

लउछरहा..