गांव के संसाधन के सुघर उपयोग करके ऊंचा उठाबोन मनखे मन के जीवन स्तर – श्री टी.एस. सिंहदेव

रायपुर. छत्तीसगढ़ के पंचायत अऊ ग्रामीण विकास मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ह कहिन के गांव के संसाधन के बेहतर उपयोग करके स्थानीय मनखे मन के जीवन स्तर ऊंचा उठाये जाही। गांववाले मन ल अपन तीर-तखार के परिवेश के अच्छा जानकारी होथे। ए जानकारी के उपयोग ऊंखर बर योजना अऊ कार्यक्रम बनाए म करे जाना चाही। उमन कहिन के जीआईएस मैपिंग जैसे आधुनिक तकनीक अऊ गांव वाले मन के परंपरागत ज्ञान स्थानीय जरूरत के मुताबिक बढि़या योजना बनाए म मददगार होही। श्री सिंहदेव ह आज इहां एक निजी होटल म आयोजित मनरेगा-जीआईजेड कार्यशाला के प्रतिभागी मन ल संबोधित करत ए आशय के विचार व्यक्त करिन। उमन कार्यशाला के समय ‘मनरेगा के माध्यम ले पर्यावरण-हितैषी कार्य’ परियोजना के तहत प्रदेश के छै जिला बिलासपुर, सरगुजा, कांकेर, महासमुंद, धमतरी, बेमेतरा अऊ कवर्धा म स्थापित जीआईएस लैब के उद्घाटन करिन। उमन परियोजना के गतिविधि मन उपर आधारित तीन पुस्तिका मन के विमोचन घलोक करिन।

लउछरहा..