फँसौल होगे जी चुनई आगे फँसौल होगे

दुरूग ले जितेंद्र या राजेंद्र ? अब ले फँसौला पेंच

धमेन्‍द्र निर्मल के सार समाचार, शनिच्चर के दिल्ली म कांग्रेस चुनई समिति के बइठका होए के बाद पार्टी ह 5 ठो सीट म प्रत्याशी घोषित कर दिये हावय। बाँचे 6 ठो सीट म अभी फँसौल पेंच हावय। पार्टी ले जुड़े मन के कहना हे कि बइठका म जम्मो सीट बर नाम फाइनल होगे रिहिसे फेर कोनो कोनो सीट म सियान नेतामन के आपत्ति के बाद ओमन म दुबारा विचार करे जावत हे। इमन म प्रदेश के सबले जमदरहा माने जावत दुरूग के संगे संग रइपुर के सीट घलो संघरे हे। ओइसनेहे कोरबा, राजनांदगांव म पैनल म एकलउता नाम हवय तभो सहमति नइ बन पाए हे।
पार्टी ह सरगुजा, रायगढ़, जांजगीर, कांकेर अउ बस्तर लोकसभा सीट बर प्रत्याषीमन के हाँका पार दे हे। एमा कांकेर अउर जांजगीर ले पार्टी ह अइसन प्रत्यासीमन ल अखाड़ा म उतारे हे जेमन एकर पहिली कोनो संसदीय चुनई म भाग नइ ले हवय। उंहेंचे दीगर तीनों ठन सीट म उतारे प्रत्यासी मन ल एकर बने जोरदहरा अनभो हे। सुनब म आवत हे कि ये पांचों प्रत्यासी मुखिया भूपेश बघेल अउ स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के मनपसंद के हे। उंहेंचे अउ दीगर 6 ठन सीट बर घलो सीएम के पसंद के प्रत्यासी मन के नाम लगभग फाइनल कर दिए गे रिहिसे फेर कोनो कोनो सियनहा नेतामन ह आपत्ति करत दुबारा विचार करे खातिर आलाकमान ले मांग करे हवयं।
बताथे कि दुरूग अउ रइपुर सहीन जमदरहा सीट बर सीएम भूपेश बघेल अपन खासमखास राजेंद्र साहू अउ अभीन के महापौर प्रमोद दुबे ल अखाड़ा म उतारना चाहत हवयं। नेतामन के नजर म ए दुनों सीटमन म बने जोरदरहा उमीदुवार के विकल्प पार्टी म हवयं। इही पाय के आपसी खींचतान म ए दुनों सीट के मामला अटक गे हवय। प्रदेश के सीएम अउ गृहमंत्री के संसदीय सीट ले एकझन जोरदरहा अउ पोठ उमीदुवारी खातिर सियनहा नेतामन के जितेंद्र साहू ल मउका दे के मांग होवत हवय। उहेंचे भाजपा के गढ़ कहवइया रइपुर म प्रमोद दुबे के जीते के संभावना ल लेके सियान नेतामन के अलग- अलग राय हे तेकर सेती कोनो दूसर बने पोठलगहा प्रत्याशी उपर दांव खेले के घलो बात उफलावत हे। हालेंके टिकिट कोन ल दे जाही एकर फैसला आखरी म आलाकमानेच हं तय करही।




पार्टी के विरोध करइया ल टिकिट काबर ?
बइठका में दुरूग ले राजेंद्र साहू के नाम आगू आए के बाद प्रदेश कांग्रेस के नेता मन म ये गोठबात होवत हावे कि आखिर पार्टी के विरोध करइया नेता ल काबर अखाड़ा म उतारे परत हे? 2009 म कांग्रेस ले महापौर के टिकिट नइ मिलिस त राजेंद्र साहू ह दूसर पार्टी म संघर के कांग्रेस के खिलाफ चुनाव लड़े रिहिसे। अतके भर नहीं उन्मन पार्टी के सियान नेता मोतीलाल वोरा के पुतला दहन करके पार्टी के विरोध घलो करे रिहिसे। अइसन म सिरिफ सीएम के करीबी होएच के सेती उन्कर उपर अतेक बड़ दांव खेलई ह काकरो समझ नइ आवत हे। उंहेंचे कहॅू राजेंद्र साहू ल टिकिट दे जाही त येह पार्टी के समर्पित कार्यकर्तामन बर बड़ जोरदरहा झटका होही जउन ह ओकर मनोबल ल टोर सकत हे अउ पार्टी ल चुनई म गजब बड़ नुकसान कर सकत हे।




इन्कर उपर कांग्रेस खेलिस दांव
शनिच्चर रात ढिलाए सूची के अनुसार पार्टी ह सरगुजा ले खेल साय सिंह, रायगढ़ ले लालजीत सिंह, कांकेर ले बिरेश ठाकुर, बस्तर ले दीपक बैज अउ जांजगीर ले रवि भारद्वाज ल टिकिट दे हवय। पहिली चरण म 11 अप्रैल के बस्तर म चुनई होना हे।

सीएम के पसंद नापसंद के सेती अटके हे ए सीट मन
बइठका के बाद ए बात आगू आईस कि बाँचे 6 ठन सीट मन म प्रदेश कांग्रेस नेता मन दू धड़ा म बंटाए दिखत हवय। एक कोति सीएम अपन पसंद के प्रत्याशी ल टिकिट देवाए बर लगे हे त उंहेंचे दूसर धड़ा ह अइसन पोठलगहा प्रत्याशी जउन पार्टी ल जीतवा सकय अइसन खातिर टिकिट के मांग करत हवयं। एमा कोरबा, महासमुंद, बिलासपुर संग राजनांदगांव के सीट घलो संघरे हवयं।



चटकारा:-
गुरूजी:- चारों म आलू दउँड़ होहय त अव्वुअल कोन आही ?
(1) चीपराहा
(2) लेदरा
(3) भुनभुनहा
(4) सुरकाहा
परीक्षार्थी:- (3) भुनभुनहा
गुरूजी:- गलत। सही उत्तर (5) रेमटा हे बेटा।
परीक्षार्थी:- फेर ओला तो विकल्प म देच नइहे गुरूजी।
गुरूजी:- चुप बे, सवाल कोन पूछत हे अउ जाँच परख के नंबर कोन देही ?
परीक्षार्थी:- तेंह गुरूजी।
गुरूजी:- त काकर बात सही होही बे ?




लउछरहा..