राज्य सरकार सबो लइका मन ल पोषण सुरक्षा देहे बर प्रतिबद्ध – श्रीमती अनिला भेंड़िया

फुलवारी योजना उपर कार्यशाला

रायपुर, महिला अऊ बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भेंड़िया के अध्यक्षता म आज इहां न्यू सर्किट हाउस म फुलवारी योजना ल अऊ बेहतर बनाए के दृष्टि ले एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित करे गीस। श्रीमती भेंड़िया ह कहिन के लइका मन के शारीरिक अऊ मानसिक विकास बर राज्य सरकार प्रतिबद्ध हे अऊ हर संभव प्रयास करे ल तैयार हे।
श्रीमती भेंड़िया ह बताइस के जनघोषणा पत्र म घलोक फुलवारी केंद्र मन के स्थापना अऊ विस्तार ल सामिल करे गए हे। लइका मन म कुपोषण ल शुरूआत ले रोके जाना जरूरी हे। उमन फुलवारी योजना के सफल संचालन बर प्रभावी कार्ययोजना बनाए उपर जोर दीन, जेखर से दूरस्थ क्षेत्र मन अऊ कमजोर वर्ग के लइका मन तक पोषण अऊ स्वास्थ्य सुविधा सुगमता ले पहुंचाए जा सकय।
महिला अऊ बाल विकास विभाग के आयुक्त सह सचिव डॉ.एम गीता ह कहिन के प्रदेश ल कुपोषण मुक्‍त बनाए बर सबके समर्पण के जरूरत हे। उमन बताइन के फुलवारी केंद्र मन म तीन साल तक के लइका मन के देखभाल करके ओ मन ल स्वस्थ अऊ सुपोषित बनाए के प्रयास करे जात हे। अगस्त 2012 म सरगुजा जिला म नवाचार के रूप म 300 फुलवारी केंद्र मन के स्थापनी करे गए रहिस। एखर बाद योजना के विस्तार करत 85 अनुसूचित क्षेत्र मन के हर एक विकासखण्ड बर 30 फलवारी केन्द्र स्वीकृत करे गीस।
कार्यशाला म स्वयंसेवी संस्था सीएलआर पुणे के संचालक श्री चितरंजन कौल, एसएचआरसी रायपुर के कार्यपालक निदेशक श्री प्रवीर, जनस्वास्थ्य सहयोग, गनियारी के कार्यक्रम समन्वयक श्री रविन्द्र कुरबुड़े, ग्रामीण विकास फाउंडेशन, दिल्ली के श्री प्रतीप, युनिसेफ रायपुर के शिक्षा विशेषज्ञ श्री शेषगिरी अऊ युनिसेफ दिल्ली के शिक्षा विशेषज्ञ सुश्री सुनिशा आहूजा ह कई ठन राज्य मन म लइका मन के देखभाल अऊ कुपोषण मुक्ति के प्रभावी परिणाम मन उपर अपन अनुभव साझा कर सुझाव दीन। कार्यशाला म युनिसेफ अऊ स्वयंसेवी संगठन मन के प्रतिनिधि संग विभागीय अधिकारी उपस्थित रहिन।

लउछरहा..