खेल जगत ले जुड़े हस्‍ती मन घलोक होइन छत्तीसगढ़ के हैंडलूम अऊ कोसा के दीवाना

‘ओलम्पिक पदक विजेता कर्णम मल्लेश्वरी‘ ह ट्विटर म साझा करिस अपन अनुभव, बुनकर मन के मेहनत ल सहराईन
रायपुर, छत्तीसगढ़ के बुनकर मन के कारीगरी अऊ ऊंखर कोति ले बनाए कपड़ा मन के प्रसिद्धि दिल्ली म बिक्‍कट तेजी ले फैलत हे। अब तो खेल जगत ले जुड़े हस्‍ती मन घलोक नई दिल्ली के छत्तीसगढ़ भवन म लगे प्रदर्शनी म खरीदारी करे पहुँचत हें। आज रणजी क्रिकेट अऊ हॉकी के खिलाड़ि मन ह नई दिल्ली के छत्तीसगढ़ भवन म दस्तक दीन अऊ इहां लगे छत्तीसगढ़ के बुनकर मन के प्रदर्शनी म जमके खरीददारी करिन।

काल जब छत्तीसगढ़ के हैंडलूम अऊ हैंडीक्राफ्ट प्रदर्शनी के जानकारी वेटलिफ्टिंग म ‘ओलम्पिक पदक जीतइया भारत के पहिली महिला‘ कर्णम मल्लेश्वरी ल मिलीस त वो अपन ल रोक नइ पाइस अऊ नई दिल्ली के छत्तीसगढ़ भवन म लगे हस्तशिल्प अऊ हथकरघा प्रदर्शनी ल देखे ल पहुँचिस। इहां उमन कोसा अऊ हैंडलूम के कई ठन लुगरा खरीदिन। उमन छत्तीसगढ़ के अलग-अलग जिला ले आए बुनकर मन ले बात करिन अऊ ये प्रदर्शनी ल अऊ जादा दिन बर आगू बढ़ाए के आग्रह घलोक करिन। उमन कहिन कि ऊंखर कई संगी जऊन खेल जगत ले जुड़े हे, ओ मन अभी आ नइ पाये हें, उंखर इच्छा हे कि ओ मन ये प्रदर्शनी म आवयं। कर्णम मल्लेश्वरी ह छत्तीसगढ़ भवन म लगे प्रदर्शनी म अपन अनुभव ल ट्विटर म घलोक साझा करिन।
रणजी ट्रॉफी दिल्ली ले खेलइया खिलाड़ी श्री चेतन शर्मा ल छत्तीसगढ़ के हेंडीक्राफ्ट बिक्‍कट पसंद आइस। पूर्व हॉकी खिलाड़ी सतेंद्र शर्मा ह कोसा के कुर्ता लीन अऊ कहिन के ओ मन एला परिवार म होवइया शादी के अवसर म पहिनहीं। एखर अलावा पंजाब ले रणजी खिलाडी मयंक सदाना, क्रिकेटर मोहम्मद शरीक संग आन खिलाड़ी मन ह घलोक प्रदर्शनी ले कोसा अऊ हैंडीक्राफ्ट के सामान खरीदिन।

एहू ल पढ़व ..  अंतर्राष्ट्रीय ओजोन परत संरक्षण दिवस म रायपुर म होइस प्रतियोगिता

लउछरहा..