सुकमा जिला के विकास म कोनो कमी नइ होवय: श्री भूपेश बघेल

  • पंच-सरपंच, किसान सम्मेलन म उमडि़स जनसैलाब
  • छिंदगढ़ म खुलही जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक के शाखा
  • तोंगपाल म अगले शिक्षा सत्र ले शासकीय महाविद्यालय
  • नदिया ले सिंचाई करइया एक हजार किसान मन के सिंचाई पंप ऊर्जीकरण बर 13 करोड़ मंजूर
  • छिंदगढ़-गंजेनार के पेयजल व्यवस्था बर 8 करोड़ स्वीकृत
  • जेल मन म छोटे-छोटे अपराध म बंदी आदिवासी मन ल मिलही रिहाई: पहिली चरण म 313 मनखे रिहा करे जाही
  • एएनएम अऊ एमपीडब्ल्यू स्वास्थ्य कार्यकर्ता मन ल 50 स्कूटी दिए जाही
  • गौठान मन म बनही आजीविका सेन्टर

रायपुर, मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ह आज जिला मुख्यालय सुकमा म आयोजित पंच-सरपंच, किसान सम्मेलन ल सम्बोधित करत कहिन कि सुकमा जिला के विकास के काम म कोनो कमी नइ होवय। मुख्यमंत्री सम्मेलन ल सम्बोधित करत कहिन कि छिंदगढ़ म जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक के शाखा खोले जाही। तोंगपाल म अगले शिक्षा सत्र ले शासकीय महाविद्यालय चालू होही। उमन एक हजार किसान मन के सिंचाई पंप ऊर्जीकरण बर 13 करोड़ रूपिया अऊ छिंदगढ़-गंजेनार के पेयजल व्यवस्था बर 8 करोड़ रूपिया के घोषणा करिन। श्री बघेल ह शिक्षा सत्र 2020-21 ले अतिसंवेदशील क्षेत्र गोलापल्ली म 50 सीटर छात्रावास अऊ 100 सीटर आश्रम चालू करे, तालनार स्कूल के उन्नयन हायर सेकेण्डरी स्कूल म करे, तोंगपाल अऊ दोरनापाल म पोस्ट मैट्रिक छात्रावास अऊ सुकमा म पोस्ट मैट्रिक पिछड़ा वर्ग छात्रावास के मंजूरी दीन। श्री बघेल ह कहिन कि छोटे अपराध म जेल म बंद आदिवासी मन ल छोड़े जाही। पहिली चरण म 313 मनखे मन ल रिहा करे जाही। उमन कहिन कि ये आदिवासी बहुल जिला म स्वास्थ्य सुविधा बनेच सुनिश्चित करे एएनएम अऊ एमपीडब्ल्यू स्वास्थ्य कार्यकता मन ल 50 स्कूटी दीए जाही। ये बेरा म उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा, राजस्व मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल, लोकसभा सांसद श्री दीपक बैज अऊ विधायक सर्वश्री मोहन मरकाम, लखेश्वर बघेल अऊ श्री विक्रम मण्डावी, जिला पंचायत सुकमा अध्यक्ष श्री हरीश कवासी संग बहुत अकन जनप्रतिनिधि अऊ ग्रामीण बड़ी संख्या म उपस्थित रहिन।

एहू ल पढ़व ..  डिजाइनर कपड़ा उपर काम करयं देवांगन समाज, बाजार के बेवस्‍था कराही सरकार

’अरपा पैरी के धार, महानदी हे अपार’ गीत छत्तीसगढ़ के राज्यगीत घोषित होए के बाद पहली पइत सुकमा के मिनी स्टेडियम म गूंजिस। उपस्थित अतिथि मन के संग सबो मनखे मन ह खड़े होके राज्यगीत ल सम्मान दीन।

लउछरहा..