अपरेल ले जुलाई तक पंजीयन राजस्व म 28 प्रतिशत बढ़ोतरी, मिलीस 406 करोड़ के राजस्व

  • पंजीयन कार्यालय मन म होही सबे सुविधा
  • वाणिज्यिक कर (पंजीयन) मंत्री श्री जय सिंह अग्रवाल ह करिस विभागीय काम मन के समीक्षा

रायपुर, राजस्व अऊ वाणिज्यिक कर (पंजीयन) मंत्री श्री जय सिंह अग्रवाल Jai Singh Aggarwal ह आज इहां नवा थिरावन भवन म पंजीयन विभाग Registration department के काम मन के समीक्षा करिन। बैठक म उमन चालू वित्तीय साल 2019-20 म अब तक आए पंजीयन राजस्व के जिलावार समीक्षा करिन। उमन पंजीयन होए कागद मन अऊ स्‍टांप, आर.आर.सी., न्यायालयीन अऊ ऑडिट प्रकरण मन के जिलेवार जानकारी लेहे के संगेच ई-पंजीयन के काम-धाम के घलोक समीक्षा करिन। उमन ये साल नवा बनइया उप पंजीयक Deputy Registrar अऊ जिला पंजीयक कार्यालय District registrar’s office मन बर जमीन अधिग्रहण के काम लउहे पूरा करे के निर्देश दीन, जेकर से भवन बनाए के काम लउहे चालू कराए जा सकय। वाणिज्यिक कर (पंजीयन) विभाग के सचिव श्री सुबोध सिंह घलोक समीक्षा बैठक म मौजूद रहिन।

श्री अग्रवाल ह बैठक म पंजीयन के प्रक्रिया  Registration process ल सरल अऊ जल्दी बनाए बर राज्य सरकार कोति ले जनहित म लेहे जात फैसला मन ल सरलग मनखे मन तक पहुंचाए के निर्देश दीन। उमन विभागीय अधिकारी मन अऊ कर्मचारी मन ल घलोक शासन के नवा फैसला मन के अऊ प्रावधान मन के बारे म पूरा जानकारी रखे ल कहिन। उमन बताइन कि जमीन मन के गाइडलाइन दर 30 प्रतिशत कम करे अऊ 75 लाख रूपिया कीमत तक के आवासीय संपत्ति के पंजीयन दर Registration rate 4 प्रतिशत ले घटाके 2 प्रतिशत करे के निर्णय हाले म राज्य सरकार ह लेहे हे।

एहू ल पढ़व ..  समाज के सहभागिता ले होही शिक्षा के अनूकुल वातावरण - डॉ महंत

बैठक म वाणिज्यिक कर (पंजीयन) मंत्री ह अधिकारी मन ल निर्देशित करिन कि ओ मन अपन कार्यालय मन म अइसे व्यवस्था बनावव कि पंजीयन बर अवइया मनखे मन के काम जल्दीच पूरा हो जावय। उमन पंजीयन कार्यालय मन के व्यवस्था के समीक्षा करके एला सर्वसुविधायुक्त बनाए ल कहिन। पंजीयन कार्यालय मन के आधुनिकीकरण करके प्रतीक्षालय, पेयजल, शौचालय, दिव्यांग मन बर रैंप, सूचना बोर्ड अऊ हेल्पडेस्क के सुविधा मुहैया कराए ल घलव बोले गीस। उमन पंजीयन के संग जादा ले जादा राजस्व जुटाए अऊ पक्षकार मन ल बनेच सुविधा देहे ल पूरा विभाग एक टीम के जइसे काम करे ल कहिन।

पंजीयन अऊ मुद्रांक महानिरीक्षक Inspector general of registration stamp श्री धर्मेश साहू ह समीक्षा बैठक म बताइस कि चालू वित्तीय साल म एक हजार 500 करोड़ रूपिया राजस्व प्राप्ति के लक्ष्य हे। वित्तीय साल 2019-20 म अपरेल ले जुलाई महिना तक 406 करोड़ रूपिया के पंजीयन राजस्व प्राप्त होय हे। ये ह पाछू साल इही बेरा म प्राप्त राशि ले 28 प्रतिशत जादा हे। विभाग कोति ले ये समें म 85 हजार 250 कागद मन के पंजीयन करे गीस, जऊन पाछू साल के तुलना म 18 प्रतिशत जादा हे।

श्री साहू ह बताइस कि राज्य शासन कोति ले छोटे भूखंड मन के पंजीयन Registration of small plots के अनुमति देहे के बाद पंजीयन म बिक्‍कट तेजी आए हे। ये साल 1 जनवरी ले छोटे भूखंड मन के पंजीयन के शुरूआत करे गए हे। जनवरी ले जुलाई के बीच 57 हजार 585 संपत्ति मन के पंजीयन करे जा चुके हे। उमन बताइस कि ये साल 6 नवा उप पंजीयक कार्यालय मन बर भवन निर्माण के संगेच 15 आन पंजीयन कार्यालय मन के उन्नयन करे जाही। बैठक म सबो जिला मन के जिला पंजीयन अऊ उप पंजीयन अधिकारी अऊ स्टांप वेंडर्स अउ स्टॉक होल्डिंग कार्पोरेशन के प्रतिनिधि घलोक उपस्थित रहिन।

लउछरहा..